श्रेष्ठ उत्तराखण्ड (ShresthUttarakhand) | Hindi News

Follow us

Follow us

Our sites:

|  Follow us on

पीएम मोदी ने तिरुचिरापल्ली को दी 20 हजार करोड़ रुपये की सौगात


विंध्य के दक्षिण में ‘सबका विकास’ के लिए जोर देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को तिरुचिरापल्ली में 20 हजार करोड़ रुपये से अधिक की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया।  

भारतीदासन विश्वविद्यालय में दीक्षांत समारोह आयोजित करने के बाद शहर में सार्वजनिक कार्यक्रम में नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने पीएम मोदी का अभिनंदन किया। कार्यक्रम में बोलते हुए नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पीएम मोदी के नेतृत्व की सराहना करते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने उनकी देखरेख में यह सुनिश्चित किया है कि हवाई अड्डे न केवल यात्रा का माध्यम हैं बल्कि विकास के केंद्र भी हैं।

सिंधिया ने कहा “हवाई अड्डे पूरे देश के लिए रोजगार के केंद्र के रूप में भी उभर रहे हैं। इस सरकार के पिछले 9.5 वर्षों में एक बड़ा बदलाव यह हुआ है कि पीएम मोदी ने अपने नेतृत्व के माध्यम से इस देश के प्रत्येक नागरिक के लिए नागरिक उड्डयन का लोकतंत्रीकरण किया है। हर कोई जो ‘हवाई चप्पल’ पहनता है उसे ‘हवाई जहाज’ में भी यात्रा करनी चाहिए। यह हमारे देश के लोगों के लिए पीएम का सपना रहा है।”

बाद में पीएम मोदी त्रिची हवाई अड्डे पर नए टर्मिनल भवन का उद्घाटन करने के लिए रवाना हुए। नए टर्मिनल भवन को 1100 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से विकसित किया गया है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक आधिकारिक विज्ञप्ति के माध्यम से पहले बताया कि दो-स्तरीय नए अंतरराष्ट्रीय टर्मिनल में सालाना 44 लाख से अधिक यात्रियों और पीक ऑवर्स के दौरान लगभग 3,500 यात्रियों को सेवा देने की क्षमता है।

तिरुचिरापल्ली अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा अंतर्राष्ट्रीय यात्री यातायात के मामले में तमिलनाडु में चेन्नई के बाद दूसरा सबसे बड़ा हवाई अड्डा है। नए टर्मिनल भवन में 60 चेक-इन काउंटर, 5 बैगेज हिंडोला, 60 आगमन आव्रजन काउंटर और 44 प्रस्थान उत्प्रवास काउंटर हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने करोड़ों रुपये की कई रेलवे परियोजनाएं भी राष्ट्र को समर्पित कीं। इनमें 41.4 किलोमीटर लंबे सेलम-मैग्नेसाइट जंक्शन-ओमालुर-मेट्टूर बांध खंड का दोहरीकरण, मदुरै-तूतीकोरिन तक 160 किमी के रेल लाइन खंड का दोहरीकरण और रेल लाइन विद्युतीकरण के लिए तीन परियोजनाएं- तिरुचिरापल्ली-मनमदुरै-विरुधुनगर, विरुधुनगर-तेनकासी जंक्शन, सेनगोट्टई-तेनकासी जंक्शन, तिरुनेलवेली- तिरुनेलवेली- तिरुचेंदूर शामिल है। रेल परियोजनाओं से माल ढुलाई और यात्रियों को ले जाने की रेल क्षमता में सुधार करने और तमिलनाडु में आर्थिक विकास और रोजगार सृजन में योगदान करने में मदद मिलेगी।

पीएम मोदी ने राष्ट्र को पांच सड़क परियोजनाएं भी समर्पित कीं। जिनमें NH-81 के त्रिची-कल्लागम खंड के लिए 39 किलोमीटर लंबी चार-लेन सड़क, एनएच-81 के कल्लागम-मीनसुरूट्टी खंड के लिए 60 किमी लंबी 4/2-लेन सड़क, एनएच-785 के चेट्टीकुलम-नाथम खंड की 29 किमी लंबी चार-लेन सड़क, एनएच-536 के कराईकुडी-रामनाथपुरम खंड के पक्के किनारे वाली 80 किमी लंबी दो-लेन सड़क और NH-179A सेलम-तिरुपथुर-वनियमबाड़ी रोड का 44 किमी लंबा चार-लेन खंड शामिल है। सड़क परियोजनाएं क्षेत्र के लोगों की सुरक्षित और तेज़ यात्रा की सुविधा प्रदान करेंगी और त्रिची, श्रीरंगम, चिदंबरम, रामेश्वरम, धनुषकोडी, उथिराकोसामंगई, देवीपट्टिनम, एरवाड़ी और मदुरै जैसे औद्योगिक और वाणिज्यिक केंद्रों की कनेक्टिविटी में सुधार करेंगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने महत्वपूर्ण सड़क विकास परियोजनाओं की आधारशिला भी रखी। इनमें एनएच 332ए के मुगैयुर से मरक्कनम तक 31 किलोमीटर लंबी चार-लेन सड़क का निर्माण शामिल है। यह सड़क तमिलनाडु के पूर्वी तट पर बंदरगाहों को जोड़ेगी, विश्व धरोहर स्थल मामल्लापुरम के लिए सड़क कनेक्टिविटी बढ़ाएगी और कलपक्कम परमाणु ऊर्जा संयंत्र को बेहतर कनेक्टिविटी प्रदान करेगी।

पीएम मोदी ने कामराजार बंदरगाह के जनरल कार्गो बर्थ-II (ऑटोमोबाइल निर्यात/आयात टर्मिनल-II और कैपिटल ड्रेजिंग चरण-V) का भी उद्घाटन किया। जनरल कार्गो बर्थ II का उद्घाटन देश के व्यापार को मजबूत करने की दिशा में एक कदम होगा। जो आर्थिक विकास और रोजगार सृजन को बढ़ावा देने में मदद करेगा।

इसके अलावा जिन परियोजनाओं की आधारशिला रखी गई उनमें गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (गेल) द्वारा कोच्चि-कुट्टनाड-बैंगलोर-मैंगलोर गैस पाइपलाइन II (KKBMPL II) के कृष्णागिरि से कोयंबटूर खंड तक 323 किलोमीटर लंबी प्राकृतिक गैस पाइपलाइन का विकास और वल्लूर, चेन्नई में प्रस्तावित ग्रास रूट टर्मिनल के लिए कॉमन कॉरिडोर में पीओएल पाइपलाइन बिछाना शामिल है। पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस क्षेत्रों में ये परियोजनाएं क्षेत्र में ऊर्जा की औद्योगिक, घरेलू और वाणिज्यिक आवश्यकताओं को पूरा करने की दिशा में एक कदम होंगी। इनसे क्षेत्र में रोजगार सृजन भी होगा और रोजगार सृजन में योगदान मिलेगा। पीएम मोदी ने तिरुचिरापल्ली में राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) के 500 बिस्तरों वाले बॉयज़ हॉस्टल ‘एमेथिस्ट’ का भी उद्घाटन किया।

प्रधानमंत्री मोदी दो और तीन जनवरी को तमिलनाडु के अलावा लक्षद्वीप और केरल का भी दौरा करेंगे।


संबंधित खबरें

वीडियो

Latest Hindi NEWS

Anant Radhika Wedding
Anant Radhika Wedding: अनंत-राधिका को आशीर्वाद देने पहुंचे पीएम मोदी
IND vs ZIM 4th T20
IND vs ZIM 4th T20: यशस्वी- गिल की धमाकेदार पारी, जिम्बाब्वे को रौंद भारत ने जीती सीरीज
uttarakhand by election 2024 | mangalore by election | badrinath by election | cm dhami | congress |
मतदाताओं का डबल इंजन की सरकार को करारा जवाब : मनीष राणा
Haldwani
Haldwani: दो दिन पहले नाले में बहे युवक का नहीं लगा सुराग, तलाश जारी
encroachment removed in rudrapur | bulldozer run on illegal houses | cm dhami | high court order |
हाईकोर्ट के आदेश पर अवैध मकानों पर चला बुलडोजर, कई वर्षों से रह रहे थे लोग
by election result 2024 | tmc | congress | bjp |
By Election Result : JDU RJD को तगड़ा झटका, बंगाल में टीएससी की शानदार जीत